Posts

Showing posts from July, 2017

देशभक्ति या मौकापरस्ती

कुछ महीनों पहले की ही बात है जब jio नही था तब सारी टेलीफोन नेटवर्क कंपनियों के कॉल और नेट पैक की कीमत एक समान थी। सारे भारत पर उनका राज था और लोगों के पास दूसरा कोई उपाय नही था उनकी मुँह मांगी कीमत देने के अलावा। 30 दिन के महीने को 28 दिन में परिवर्तित कर दिया गया है।
सरकार की टेलीफोन सेवायें ऐसी है कि लोग फ्री में भी नही लेते। ऐसी स्तिथि में सारे भारतीय बाज़ार पर उनकी मोनोपोली चल रही थी। उपभोक्ता को या तो उनकी निर्धारित कीमत चुकानी होगी या फिर उन सेवाओं से वंचित रहना होगा।Jio के आने के बाद आज सब कम से कम कीमत पर अधिक से अधिक कॉल और नेट पैक देने की प्रतिस्पर्धा में लगे है।चीनी सामान की तुलना हमारे यहां Jio से की जा सकती है जो कि काफी क्षेत्रों में सामान की कीमत को आम आदमी के बजट में रखे हुए है।अगर कल चीनी सामान को बंद कर दिया जाए तो क्या भारतीय कंपनियां एकजुट होकर अपने सामान को एक निश्चित कीमत पर खरीदने के लिए आम आदमी को विवश नही कर सकती जैसा कि टेलीफोन नेटवर्क कंपनियों ने कर रखा था Jio के आने से पहले।चीनी सामान को न कहने से पहले हम भारतीयों को अपने और दूसरे के मन को टटोलने की जरूरत है…